गिर गई फडणवीस सरकार,विधायकों की डकैती बीजेपी के काम नहीं आई


akhilesh yadav on maharashtra politics



बहुत बेआबरू होकर तेरे कूचे से हम निकले..बीजेपी की तरफ से सुबेर सबेरे उठकर चोरी से मुख्यमंत्री बन जाने वाले  देवेंद्र फडनवीस का हाल यही हुआ है..चोकी का माल पचता नहीं है इसीलिए..80 घंटे ही मुख्यमंत्री रह पाए...अपने चाचा को धोखा देकर घोटाले के दाग मिटवाने के लिए बीजपी के हाथों खुद को बेच देने वाले अजित पवार का हाल भी यही हुआ है..अजित पवार और देवेंद्र फडनवीस ने इस्तीफा दे दिया है..क्योंकि सरकार चलाने भर के विधायक थे नहीं..एनसीपी शिवसेना और कांग्रेस ने अपने विधायकों को होटल में बंद करके..बिकने नहीं दिए..बीजेपी विधायक लाती कहां से..इसलिए बेआबरू होकर इस्तीफा देने में ही भलाई समझी..

 राजनीति कितने घटिया स्तर पर उतर आई है कि..चोरी मक्कारी और डकैती शीर्ष पायदान पर बैठे नेतृत्व कर्ताओं में भर गई है..आप सोचिए कि विधायकों को होटलों में छिपाना पड़ रहा है..कोई खरीद ना ले..कोई लूट ना ले..कोई बहला ना ले..आदमी का आदमी पर विश्वास नहीं रहा..ऐसे लोग समाज की सेवा करने के लिए आप ही चुनते हैं.. समाज की सेवा करने वाले ऐसी खरीदने बेचने..लूटने और हथियाने वाले होंगे तो वो समाज को बेहतर बनाने के लिए क्या कर सकते हैं..

अखिलेश यादव ने कहा कि ‘संविधान को मानने वालों की जीत हुई है और नकारने वालों की करारी हार हुई है..विशेष सांविधानिक शक्ति के दुरुपयोग के लिए नैतिक ज़िम्मेदारी लेते हुए किसी और को भी इस्तीफ़ा दे देना चाहिए, जिनकी ‘भोर की भूल’ ने आज देश को सारे विश्व के सामने शर्मिंदा किया है’

https://twitter.com/yadavakhilesh/status/1199278156030435328


 बीजेपी को जरा भी सब्र नहीं रहा..बिना विधायक ही मुख्यमंत्री बना दिया..ये तो भला है कि देश में सुप्रीम कोर्ट है..आप तय करिए देश को क्या सिखाया जा रहा है..जो चोरी मक्कारी..खरीद फरोख्त अब तक शर्मिंदगी थी वो इस दौर में शान समझी जाने लगी है..

     https://www.youtube.com/watch?v=Qhq8iWpUnNg&t=1s









Comments