अरब'प्रीति' महापात्रा ने 11 सीटों के लिए 12वीं प्रत्याशी के तौर पर पर्चा दाखिल कर दिया..बीजेपी कराएगी हॉर्स ट्रेडिंग !

यूपी के खाते से गुजरात के अरबपति कारोबारी की पत्नी प्रीति ने राज्यसभा का पर्चा भरकर सबको चौंका दिया है..और सियागी गलियारे का बाजार इस बात से और ज्यादा गर्म है कि एक निर्दलीय प्रत्याशी के बीजेपी के 10 विधायक प्रस्तावक बन गए..यूपी में राज्यसभा की 11 सीटों पर चुनाव होने हैं...पार्टियों को अपनी अपनी ताकत पता है..सभी ने अपनी शक्ति के हिसाब से प्रत्याशी मैदान में उतार दिये हैं..ऐसे में गुजरात से आई प्रीति को वोट कैसे और कहां से मिलेंगे..क्योंकि सवाल सेफ से ज्यादा शेष पर टिक गया है..

प्रीति अपने आप को पीएम मोदी का करीबी बताती हैं..प्रीति विचार मंच नाम की संस्था चलाती हैं..प्रीति के पति हरिहर महापात्रा पर साढ़े पांच करोड़ का घपला करने का आरोप है..महाराष्ट्र में प्रीति के पति हरिहर महापात्रा पर केस भी दर्ज है...राज्यसभा की एक सीट के लिए 34 विधायकों की जरूरत होगी..बीएसपी को 2 सदस्य राज्यसभा जाने के बाद 11 विधायक बचेंगे..41 सीटों वाली बीजेपी ने अपने खाते से 1 प्रत्याशी से पर्चा भरा दिया है मतलब बीजेपी के 7 सदस्य बचेंगे..
 छोटे और निर्दलिय विधायकों को मिलाकर 18 वोट बचते हैं लेकिन प्रीति को चाहिए 34 वोट..11 सदस्य बीएसपी के बचते हैं ..और 7 वोट बाजेपी के अगर 18 में 11 और 7 जोड़ दें तो 36 सदस्य हो जाते हैं और जीत के लिए अनुमानित आंकड़ा 34 है ..धाधले बजी धोखेबाजी और ठगी के आरोपी की पत्नी को बीजेपी समर्थन कर रही है..समर्थन ही नहीं बाकायदा 10 विधायक प्रस्तावक बन रहे हैं...प्रीती के पर्चा भरने से लखनऊ में छोटी पार्टियों और निर्दलीय विधायकों की आंखों की चमक बताती है कि उनका विधायक बनना सही मायनों में प्रीति के राज्यसभा जाने से ही सार्थक होगा..

Comments