पहले पूछूंगा किसको वोट दिया है..फिर करूंगा काम : राम विलास पासवान





चुनावों में ऐन वक्त पर पलटी ना मारी होती...बेटे चिराग की सलाह पर लालू की लालटेन का साथ ना छोड़ा होता... तो LJP के अध्यक्ष की जुबान पर थोड़ा लोच तो जरूर होता… मोदी लहर में बहकर किनारे लगने वाले राम विलास को आपने वोट नहीं दिया है तो उनके पास मत जाइयेगा..उनको दुखड़ा मत सुनाइयेगा..


राम बिलास पहले परखेंगे..वफादार मतदाता होने की कसौटी पर कसेंगे..वोट का हिसाब होगा..झोपड़ी का बटन दबाया है तो ही इस आधुनिक समाजसेवक के पास जाइये..क्योंकि रामविलास की नजर पारखी है..नीर छीर में अंतर रामविलास राजहंस से भी बेहतर करते हैं..

हाजीपुर में एक सभा को संबोधिक कर रहे थे..वहीं से इस आदर्श वाक्य का जन्म हुआ कि पहले पूछूंगा कि किसको वोट दिया फिर काम करूंगा...सबका साथ सबके विकास की बात राष्ट्रपति महोदय अभिभाषण में कहते रह गए..खैर छोड़ दीजिए जनाब...मोदी का मॉडल भी भूल जाइये..रामविलास पर ही आइये LJP मुखिया के साथ–साथ इनकी एक और पहचान है..सर जी ताजे ताजे उपभोक्ता मामले, खाद्य एवं सार्वजनिक वितरण मंत्री बने हैं...जितना बड़ा नाम उनके पद का है काश के इतना ही वजनदार सोचते... तो सियासत की ये घटिया सोच कुछ बदल जाती..

Comments